भारत में लोकप्रिय चिड़ियाघर – Important Zoo In India

भारत में लोकप्रिय चिड़ियाघर – Important Zoo In India

भारत में लोकप्रिय चिड़ियाघर
भारत में लोकप्रिय चिड़ियाघर

भारत एक बड़ा देश है जहां स्तनधारियों, सरीसृपों और जीवों की बहुत सारी प्रजातियां हैं। आज मैं सबसे साझा करने जा रहा हूं भारत में लोकप्रिय चिड़ियाघर

1. राष्ट्रीय प्राणी उद्यान

  • चिड़ियाघर के रूप में भी जाना जाता है दिल्ली चिड़ियाघर स्थित पुराना किला के पास में दिल्ली।
  • चिड़ियाघर में खोला गया था 1959 ।
  • चिड़ियाघर के कब्जे वाला क्षेत्र 176 एकड़ है।
  • 1347 पशु की 127 प्रजातियों चिड़ियाघर में रखा जाता है।
  • हादसा – नाम का शख्स मकसूद से में गिर गया व्हाइट टाइगर के पिंजरे गलती । लोगों ने बाघ पर पथराव शुरू कर दिया। कुछ मिनटों के बाद क्रोधित बाघ द्वारा उस आदमी को ले जाया गया और उसकी हत्या कर दी गई।
  • सार्वजनिक आकर्षण के लिए विभिन्न जानवरों और पक्षियों को चिड़ियाघर में रखा जाता है जैसे – चिम्पांजी, दरियाई घोड़ा, मकड़ी बंदर, अफ्रीकी जंगली भैंस, जिराफ, गिर शेर, ज़ेबरा, मोर, हाइना, मकाक, जगुआर, बंगाल टाइगर, भारतीय गैंडा, दलदली हिरण, एशियाई शेर, भौंह सींग वाले हिरण और लाल जंगली मुर्गी आदि।

2. JAIPUR ZOO

  • चिड़ियाघर में खोला गया 1877 था।
  • चिड़ियाघर में स्थित है राजस्थान के जयपुर ।
  • जयपुर चिड़ियाघर पास स्थित है अल्बर्ट हॉल संग्रहालय के ।
  • चिड़ियाघर के कब्जे वाला क्षेत्र 35 एकड़ है
  • 550  जानवरों चिड़ियाघर में को रखा जाता है।
  • लुप्तप्राय जानवर जैसे लार्ज इंडियन सिवेट, ब्लैक पैंथर, फ्लेमिंगो, गिनीफो आदि आसानी से देखे जा सकते हैं। जो बड़े पैमाने पर जनता के आकर्षण हैं।
  • चिड़ियाघर कई अलग-अलग स्तनधारियों, पक्षियों और सरीसृपों को आश्रय भी प्रदान करता है।

3. पटना चिड़ियाघर

  • चिड़ियाघर को नाम से भी जाना जाता है संजय गांधी जैविक उद्यान या संजय गांधी बॉटनिकल एंड जूलॉजिकल गार्डन के ।
  • पार्क को पहली बार रूप में स्थापित किया गया था बॉटनिकल गार्डन के में 1969 ।
  • चिड़ियाघर में स्थित पटना, बिहार है।
  • पार्क में चिड़ियाघर के रूप में जनता के लिए खुला था 1973
  • चिड़ियाघर के कब्जे वाला क्षेत्र 152.95 एकड़ है।
  • 800 जानवरों की 110 प्रजातियों चिड़ियाघर में रखा जाता है।
  • जानवरों की प्रजातियां 70, मछली – 35, सांप – 5 हैं।
  • बाघ, तेंदुआ, मेघयुक्त तेंदुआ, दरियाई घोड़ा, मगरमच्छ, हाथी, हिमालयी काला भालू, सियार, काला हिरण, चित्तीदार हिरण, मोर, पहाड़ी मैना, घड़ियाल, फायथन, भारतीय गैंडा, जिराफ, ज़ेबरा, एमु, सफेद मयूर आदि जानवर जैसे जानवर लेते हैं। इस चिड़ियाघर के नीचे आश्रय।

4. कानपुर चिड़ियाघर

  • चिड़ियाघर को नाम से भी जाना जाता एलन फॉरेस्ट जू के स्थित उत्तर प्रदेश में है
  • चिड़ियाघर में खोला गया 1974 था।
  • चिड़ियाघर के कब्जे वाला क्षेत्र 190 एकड़ है
  • चिड़ियाघर में स्तनधारियों में सफेद एशियाई बाघ, चीता, तेंदुआ, जगुआर, लकड़बग्घा, काला भालू, घड़ियाल भालू, सुस्त गैंडा, दरियाई घोड़ा, बंदर, लंगूर, बबून, कस्तूरी मृग, हिरण और मृग, चिंपैंजी, ओरंगुटान आदि शामिल हैं।
  • एक वर्षा जल झील चिड़ियाघर में आकर्षण है।
  • आदमकद डायनासोर की मूर्ति भी लोगों को आकर्षित करती है।

5. लखनऊ चिड़ियाघर

  • चिड़ियाघर को नाम से भी जाना जाता है प्रिंस ऑफ वेल्स जूलॉजिकल गार्डन या लखनऊ जूलॉजिकल गार्डन के ।
  • चिड़ियाघर की स्थापना 1921 में हुई थी
  • यह के हृदय शहर स्थित है में उत्तर प्रदेश ।
  • चिड़ियाघर के कब्जे वाला क्षेत्र 71.6 एकड़ है
  • 911 जानवरों चिड़ियाघर में को रखा गया है।
  • 102 प्रजातियां चिड़ियाघर में उपलब्ध हैं।
  • केवल कानपुर चिड़ियाघर और लखनऊ चिड़ियाघर में पूरे भारत में ओरंगुटान हैं।
  • चिड़ियाघर का घर है जो 463 स्तनधारियों , 298 पक्षियों और 72 सरीसृपों प्रतिनिधित्व करते 97 प्रजातियों का हैं।
  • की प्रजातियों प्रजातियों में शामिल हैं- रॉयल बंगाल टाइगर, व्हाइट टाइगर, शेर, भेड़िया, हूलॉक गिब्बन, हिमालयी ब्लैक बीयर, भारतीय गैंडा, काला हिरन, दलदल हिरण, बार्किंग हिरण, हॉग हिरण, एशियाई हाथी, जिराफ, ज़ेबरा, आम ऊदबिलाव, पहाड़ी मैना , विशालकाय गिलहरी, ग्रेट पाइड हॉर्नबिल, गोल्डन तीतर, सिल्वर तीतर आदि।
  • इन प्रजातियों की नस्लें सफल होती हैं जैसे कि स्वैम्प डियर, ब्लैक बक, हॉग डियर और बार्किंग डियर, व्हाइट टाइगर, इंडियन वुल्फ और कई तीतर।

6. अलीपुर चिड़ियाघर

  • चिड़ियाघर को नाम से भी जाना जाता है अलीपुर जूलॉजिकल गार्डन या कलकत्ता चिड़ियाघर के ।
  • उद्यान को से चिड़ियाघर के रूप में खोला गया 1876 था।
  • चिड़ियाघर में स्थित है पश्चिम बंगाल के कोकाटा ।
  • चिड़ियाघर के कब्जे वाला क्षेत्र 4 6.5 एकड़ है
  • 1,266 जानवरों चिड़ियाघर में को रखा जाता है और संख्या प्रजातियों की 108 है
  • दुर्लभ प्रजातियों को भी इस चिड़ियाघर के नीचे आश्रय मिलता है जैसे – बैंटेंग, ग्रेट इंडियन वन हॉर्नेड गैंडा, क्राउन क्रेन, लायन टेल्ड मैकाक, सदर्न कैसोवरी, वाइल्ड याक, जाइंट एलैंड, स्लो लोरिस, इचिदना आदि।
  • चिड़ियाघर ने एक रिकॉर्ड बनाया जब 1 जनवरी, 2015 को लगभग 75,000 लोगों ने चिड़ियाघर का दौरा किया।

7. त्रिशूर चिड़ियाघर

  • पूर्व रूप में जाना जाता था त्रिचूर चिड़ियाघर के स्थित में केरल के त्रिशूर शहर में ।
  • चिड़ियाघर में खोला गया 1885 था
  • चिड़ियाघर के कब्जे में क्षेत्र 13 .5 एकड़ जमीन
  • चिड़ियाघर के में बॉटनिकल गार्डन, जूलॉजिकल गार्डन, कला संग्रहालय और प्राकृतिक इतिहास संग्रहालय है परिसर ।
  • शेर, बाघ, हिरण, सुस्त भालू, बंदर, दरियाई घोड़ा, ऊंट, कोबरा, क्रेट, वाइपर, चूहा, सांप, गुलाबी राजहंस, उत्तर-पूर्वी पहाड़ियों के मिथुन और शेर की पूंछ वाले मकाक को आश्रय प्रदान करने वाला चिड़ियाघर।
  • नाम से जाने जाने वाले सांपों के लिए ही विशेष भवन का रखरखाव किया जाता है सांपों के घर के ।  

8. छत्तीसगढ़ चिड़ियाघर

  • चिड़ियाघर को नाम से भी जाना जाता है ‘महेंद्र चौधरी जूलॉजिकल पार्क’ के पास स्थित जीरकपुर के में चंडीगढ़ ।
  • चिड़ियाघर में खोला गया था 1977 ।
  • The रॉयल बंगाल टाइगर Chattbir चिड़ियाघर का गौरव है।
  • चिड़ियाघर हर दिन खुला सोमवार को छोड़कर रहता है।
  • लायन सफारी भी पर्यटकों के लिए प्रमुख आकर्षण है।
  • चिड़ियाघर में सैकड़ों विभिन्न स्तनधारी, पक्षी, सरीसृप रखे जाते हैं।

9. महाराजबाग चिड़ियाघर

  • चिड़ियाघर में स्थित है नागपुर,  महाराष्ट्र ।
  • पूर्व में इसे नाम से जाना जाता था भोसला राजवंश के ।
  • चिड़ियाघर की स्थापना 1894 में हुई थी।
  • चिड़ियाघर भारत के सबसे छोटे लेकिन प्रसिद्ध  चिड़ियाघरों में से एक है।
  • लगभग 600 प्रजातियों विभिन्न जानवरों की को चिड़ियाघर में रखा गया है।
  • तेंदुआ, शेर, बाघ, मयूर आदि जनता के प्रमुख आकर्षण हैं।
  • मूर्तियां भी इसकी सुंदरता को बढ़ाती हैं।

10. वंडालूर चिड़ियाघर

  • वंदौर चिड़ियाघर अरिग्नार को रूप में भी जाना जाता है अन्ना जूलॉजिकल पार्क के स्थित चेन्नई,  तमिलनाडु में ।
  • चिड़ियाघर को खोला गया था 24 जुलाई 1985 ।
  • चिड़ियाघर भीतर वंडालूर वन आरक्षित क्षेत्र के स्थित है।
  • पार्क का कुल क्षेत्रफल 1,490 एकड़ और चिड़ियाघर का क्षेत्रफल 1,300 एकड़ है।
  • यह का भारत सबसे बड़ा प्राणी उद्यान है।
  • चिड़ियाघर में जानवरों की कुल संख्या 1,657 है 163 प्रजातियों में से ।
  • चिड़ियाघर में जानवरों के प्रमुख आकर्षण हैं – बाघ, तेंदुआ, शेर, जंगली कुत्ता, शेर की पूंछ वाला मकाक, नीलगिरि लंगूर, लकड़बग्घा, सियार, काला हिरण, भारतीय बाइसन, भौंकने वाला हिरण, सांभर, चित्तीदार हिरण, मगरमच्छ, सांप, जल पक्षी आदि।
  • पर जैसा कि 2010 में, वहाँ के बारे में थे स्तनधारियों की 47 प्रजातियां, पक्षियों की 63 प्रजातियां, सरीसृपों की 31 प्रजातियां, उभयचरों की 5 प्रजातियों, मछलियों की 25 प्रजातियां और कीड़ों की 10 प्रजातियों।

11. गुवाहाटी चिड़ियाघर

  • असम राज्य चिड़ियाघर सह बॉटनिकल गार्डन को नाम से जाना जाता है गुवाहाटी चिड़ियाघर के ।
  • चिड़ियाघर में स्थित है गुवाहाटी, असम ।
  • चिड़ियाघर के कब्जे वाला क्षेत्र 432 एकड़ है
  • चिड़ियाघर क्षेत्र में उत्तर-पूर्वी सबसे बड़ा है।
  • चिड़ियाघर भीतर स्थित है असम में हेंग्राबारी रिजर्व फॉरेस्ट, गुवाहाटी के ।
  • चिड़ियाघर का घर है 895 जानवरों, पक्षियों और सरीसृपों , प्रजातियों का लगभग प्रतिनिधित्व करते 113 जो दुनिया भर के जानवरों और पक्षियों की हैं।
  • आकर्षण के पशु चिम्पांजी, सफेद गैंडे, काले जिराफ अफ्रीका के गैंडे, ज़ेब्रा, शुतुरमुर्ग, , प्यूमा, जगुआर, लियामा दक्षिण अमेरिका के और कंगारू हैं ऑस्ट्रेलिया के

12. तिरुवनंतपुरम चिड़ियाघर

  • चिड़ियाघर को नाम से भी जाना जाता है त्रिवेंद्रम चिड़ियाघर के में स्थित केरल की राजधानी त्रिवेंद्रम ।
  • चिड़ियाघर के कब्जे वाला क्षेत्र 55 एकड़ है।
  • में चिड़ियाघर आम जनता के लिए खुला 1857 था।
  • वुडलैंड्स, झीलें, लॉन आदि इसकी सुंदरता को बढ़ाते हैं।
  • 82 प्रजातियां चिड़ियाघर में विभिन्न जानवरों की उपलब्ध हैं।
  • जानवरों के प्रमुख आकर्षणों में शामिल हैं – शेर की पूंछ वाला मकाक, नीलगिरि लंगूर, भारतीय गैंडा, एशियाई शेर, रॉयल बंगाल टाइगर, सफेद बाघ, तेंदुआ, नौ एशियाई हाथी आदि।
  • चिड़ियाघर ने को भी रखा है अफ्रीकी जानवरों जैसे – जिराफ, हिप्पोस, जेब्रा, केप भैंस आदि ।

13. RAJIV GANDHI ZOO

  • चिड़ियाघर का दूसरा नाम राजीव गांधी प्राणी उद्यान है।
  • चिड़ियाघर के शहर में स्थित है महाराष्ट्र पुणे ।
  • चिड़ियाघर को खोला गया था 14 मार्च 1999 ।
  • चिड़ियाघर के कब्जे वाला क्षेत्र 130 एकड़ है
  • चिड़ियाघर का प्रबंधन द्वारा किया जाता है पुणे नगर निगम ।
  • 362 जानवरों को चिड़ियाघर में रखा गया है।
  • सरीसृपों में भारतीय रॉक पायथन, कोबरा, सांप, वाइपर, भारतीय मगरमच्छ,
  • व्हाइट टाइगर और बंगाल टाइगर भी जनता के लिए एक बड़ा आकर्षण है।
  • सांपों की 22 प्रजातियां पाई जाती हैं।

14. सक्करबाग चिड़ियाघर

  • सक्करबाग चिड़ियाघर को नाम से भी जाना जाता है जूनागढ़ चिड़ियाघर के स्थित गुजरात के जूनागढ़ शहर में ।
  • चिड़ियाघर की स्थापना में हुई 1863 थी।
  • चिड़ियाघर के कब्जे वाला क्षेत्र 490 एकड़ है।
  • 1,223 जानवरों चिड़ियाघर में को रखा गया है।
  • 2008 में , चिड़ियाघर 525 स्तनधारियों, 597 पक्षियों और 111 सरीसृपों को घर उपलब्ध करा रहा था।

15. पद्मजा नायडू हिमालयन चिड़ियाघर

  • चिड़ियाघर को नाम से भी जाना जाता है दार्जिलिंग चिड़ियाघर के में स्थित पश्चिम बंगाल के दार्जिलिंग शहर ।
  • चिड़ियाघर की स्थापना 14 अगस्त 1958 को हुई थी।
  • चिड़ियाघर के कब्जे वाला क्षेत्र 67.56 एकड़ है।
  • 156 जानवरों चिड़ियाघर में को रखा गया है।
  • चिड़ियाघर जैसी लुप्तप्राय प्रजातियों का संरक्षण करने में सफल रहा है हिम तेंदुए, लाल पांडा जो चिड़ियाघर का बड़ा आकर्षण है।

16. नेहरू प्राणी उद्यान

  • चिड़ियाघर के अन्य नाम हैदराबाद चिड़ियाघर या चिड़ियाघर पार्क हैं में स्थित हैदराबाद, तेलंगाना ।
  • चिड़ियाघर की स्थापना को हुई थी 26 अक्टूबर, 1959 , लेकिन इसे खोल गया को जनता के लिए दिया 6 अक्टूबर, 1963 ।
  • चिड़ियाघर के कब्जे वाला क्षेत्र 380 एकड़ है।
  • 1100 जानवरों की 100 प्रजातियों चिड़ियाघर में रखा जाता है।
  • भारतीय गैंडे, एशियाई शेर, बंगाल टाइगर, पैंथर, गौर, भारतीय हाथी, पतला लोरिस, अजगर, हिरण, मृग, पक्षी आदि जानवर जनता के लिए बड़े आकर्षण हैं।

17. मार्बल पैलेस चिड़ियाघर

  • चिड़ियाघर में स्थित है कोलकाता, पश्चिम बंगाल ।
  • चिड़ियाघर का निर्माण करवाया था राजा राजेंद्र मलिक ने 1835 में ।
  • चिड़ियाघर में खोला गया था 1854 ।
  • यह संगमरमर की दीवारों, फर्शों, प्राचीन वस्तुओं, पेंटिंग, संगमरमर की मूर्तियों, फर्श से छत तक के दर्पण, संग्रह के लिए प्रसिद्ध है दुर्लभ पक्षियों के ।
  • चिड़ियाघर में आम जनता के आकर्षण मोर, तूफान, सारस, सारस आदि हैं।

18. इंदिरा गांधी प्राणी उद्यान

  • चिड़ियाघर को आम जनता के लिए खोला गया था 19 मई, 1977 को में स्थित विशाखापत्तनम, आंध्र प्रदेश ।
  • चिड़ियाघर का नाम के नाम पर रखा गया है पूर्व भारतीय प्रधानमंत्री इंदिरा गांधी ।
  • चिड़ियाघर के कब्जे वाला क्षेत्र 625 एकड़ है।
  • चिड़ियाघर घिरा हुआ है पूर्वी घाट से से तीन तरफ और चौथी तरफ से बंगाल की खाड़ी ।
  • 850 जानवरों की 75 प्रजातियों चिड़ियाघर में रखा जाता है।
  • बायोस्फीयर लर्निंग सेंटर और लाइब्रेरी पास उपलब्ध है कैंटीन के चिड़ियाघर में ।
  • 80 प्रजातियों जानवरों, पक्षियों और सरीसृपों की को सार्वजनिक आकर्षण के लिए चिड़ियाघर में रखा गया है।

19. नंदनकानन चिड़ियाघर

  • चिड़ियाघर खोला गया था 29 दिसंबर, 1960 को में भुवनेश्वर, ओडिशा ।
  • लेकिन में चिड़ियाघर को आम जनता के लिए खोल दिया गया 1979 ।
  • यह पहला चिड़ियाघर है ज़ू जो 2009 में वर्ल्ड एसोसिएशन ऑफ और एक्वेरियम में शामिल हुआ है।
  • चिड़ियाघर के कब्जे वाला क्षेत्र 990 एकड़ है।
  • 1580 जानवरों की 120 प्रजातियों चिड़ियाघर में रखा जाता है।
  • चिड़ियाघर का प्रमुख आकर्षण बटरफ्लाई पार्क, आर्किड हाउस, लायन सफारी, व्हाइट टाइगर सफारी आदि हैं।
  • माउस डियर, तेंदुआ बिल्ली, उड़ने वाली गिलहरी, रैकेट टेल्ड ड्रोंगो, हॉर्नबिल, मैना, नेवला आदि जैसे पशु और पक्षी जनता के लिए बड़े आकर्षण हैं।
  • लुप्तप्राय प्रजातियों जैसे एशियाई शेर, भारतीय मगरमच्छ, संगल शेर की पूंछ वाला मकाक, नुलगिरी लंगूर, भारतीय पैंगोलिन, माउस हिरण और कई मछलियों, सरीसृपों, पक्षियों को सफलतापूर्वक रखा जाता है।
  • 34 एक्वेरियम भी उपलब्ध हैं जहां ताजे पानी की मछलियों की संख्या रखी जाती है।
  • लगभग ऑर्किड की 130 प्रजातियां भी उपलब्ध हैं।

20. मैसूर चिड़ियाघर

  • मैसूर चिड़ियाघर में कर्नाटक स्थित है।
  • श्री चामराजेंद्र प्राणी उद्यान मैसूर चिड़ियाघर का दूसरा नाम है। श्री चामराजा वोडेयार राजा थे जिनके नाम पर चिड़ियाघर स्थापित है।
  • चिड़ियाघर के कब्जे वाला क्षेत्र 157 एकड़ है
  • मैसूर चिड़ियाघर मूल रूप से में बनाया गया था 1892 में 10 एकड़ लेकिन आम जनता के लिए खुला था में 1902
  • वर्तमान में चिड़ियाघर में घर है दस हाथियों का । इसमें में किसी भी अन्य चिड़ियाघर की तुलना अधिक हाथी हैं भारत के ।
  • वर्ष 1956 में, गैंडों को चिड़ियाघर में जोड़ा गया।
  • 1,320  जानवरों को 168 प्रजातियों के चिड़ियाघर में रखा गया है।
  • चिड़ियाघर की प्रजातियों में हंस, अमेरिकी सफेद पेलिकन, ज़ेब्रा, जिराफ, हमाद्रीस बबून आदि शामिल हैं।

List Of Important Zoos in India

Written by
Abhishek Kumar
Join the discussion

Instagram

Instagram has returned empty data. Please authorize your Instagram account in the plugin settings .

Please note

This is a widgetized sidebar area and you can place any widget here, as you would with the classic WordPress sidebar.

x